जानिए ब्लैकबेरी जेड3 फोन की कीमत और शानदार फीचर्स

नई दिल्ली। अपनी बाजार हिस्सेदारी को मजबूत करने के लिए ब्लैकबेरी ने अपना नया किफायती स्मार्टफोन लांच कर दिया है।

`सोनम की बिकिनी से अच्छी शुरुआत मिलेगी`

गौर हो कि फिल्म `बेवकूफियां` में अदाकारा सोनम कपूर ने बिकनी पहनी है। साथ ही उनके आयुष्मान खुराना के साथ कई इंटिमेट किस सींस भी है।ड़ रुपए के भारी-भरकम खर्च के चलते

HOT BIKINI में MARIA का सनबाथ

हॉलीवुड की दिलकश रियलिटी टीवी शो की स्टार मारिया फाउलर इन दिनों बिकिनी में मस्ती करती नजर आई।

कट्टरपंथियों को 19 साल की लड़की का Topless जवाब- F*>K

अपने शरीर पर लिखवा दिया….F*^K YOUR MORALS और इसे फेसबुक पर पोस्‍ट कर दिया

चीन में एक युवक के चेहरे पर बढ़े ट्यूमर ने उसकी जिंदगी को नर्क बना दिया

37 वर्षीय हुआंग चुनकाई के चेहरे पर 1.5 किलोग्राम का ट्यूमर था

अजय देवगन जल्द दिखेंगे रेमो की फिल्म में

मुंबई (एसएनएन) : फिल्म अभिनेता अजय देवगन को लेकर बॉलीवुड के जाने-माने कोरियोग्राफर और फिल्मकार रेमो डिसूजा एक

एलएंडटी बनायेगी मिसाइल

नयी दिल्ली, 13 फरवरी (वार्ता) इंजीनियरिग एवं रक्षा क्षेत्र की बहुराष्ट्रीय कंपनी लार्सन एंड टूब्रो (एलएंडटी) ने देश में मिसाइल डिजाइनिग तथा निर्माण के लिए दुनिया की सबसे बड़ी मिसाइल निर्यातक कंपनी फ्रांस की एमबीडीए के साथ एक संयुक्त उपक्रम बनाया है । इस संयुक्त उपक्रम का नाम’एलएंडटी एमबीडीए मिसाइल सिस्टम्स लिमिटेड’होगा। इसमें एलएंडटी की 51 प्रतिशत तथा एमबीडीए की 49 प्रतिशत हिस्सेदारी होगी । कंपनी भारत में पंजीकृत होगी तथा नियामक मंजूरी मिलने के बाद इस साल के उत्तरार्द्ध तक पंजीकरण प्रक्रिया पूरी होने की उम्मीद है। हालांकि, दोनों कंपनियों के अधिकारियों ने निवेश राशि बताने से इनकार कर दिया । संयुक्त उपक्रम के गठन के लिए समझौते पर दोनों कंपनियों के उच्चाधिकारियों के हस्ताक्षर के बाद एलएंडटी समूह के कार्यकारी अध्यक्ष ए.एम. नाइक ने कहा कि उनकी कंपनी एमबीडीए के साथ छह साल से भारतीय रक्षा क्षेत्र के लिए मिलकर काम कर रही थी तथा सरकार के रक्षा क्षेत्र को विदेशी विनिवेश के लिए खोलने और’मेक इन इंडिया’को बढ़ावा देने की नीति के बाद यह संयुक्त उपक्रम के गठन के लिए सही समय है । संयुक्त उपक्रम के तहत सबसे पहले एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल, नौसेना के इस्तेमाल के लिए सतह से सहत पर तथा सतह से जमीन पर मार करने वाली मिसाइल और हाई स्पीड टार्गेट ड्रोन का निर्माण किया जायेगा । उन्होंने कहा कि सरकार रक्षा उत्पादों को देश में ही बनाने पर जोर दे रही है और मेक इन इंडिया के तहत कई योजनाओं की शुरुआत की गयी है । उन्होंने उम्मीद जताई कि अगले कुछ वर्षों में उनकी कंपनी भारतीय सेना से बड़े ऑर्डर हासिल करने में सक्षम होगी। उन्होंने कहा कि एलएंडटी वर्ष 2०21 तक अपना रक्षा कारोबार 1० हजार करोड़ रुपये पर पहुंचने की उम्मीद करती है। श्री नाइक ने कहा कि संयुक्त उपक्रम में दो साल के अंदर उत्पादन शुरू हो जायेगा ।

विधानसभा चुनाव से पहले प्रदेश बनेंगी 10 हजार किमी सड़कें – See more at: http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/bhopal-government-will-make-10-thousand-km-of-paved-rural-road-before-the-assembly-elections-1000306#sthash.Rr5tnaur.dpuf

भोपाल। 2018 के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सरकार 10 हजार किलोमीटर लंबी पक्की ग्रामीण सड़क बनाएगी। इसके लिए ग्रामीण विकास विभाग विश्व बैंक और एशियन इंफ्रास्ट्रक्चर इनवेस्टमेंट बैंक से लगभग चार हजार करोड़ रुपए का कर्ज लेगा। इससे 150 की आबादी वाले साढ़े आठ हजार से ज्यादा गांव मुख्य सड़क से जुड़ जाएंगे। प्रस्ताव को मंजूरी के लिए विभाग बुधवार को पचमढ़ी में होने वाली कैबिनेट की बैठक में रखेगा।

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में जुड़ने से छूट गए 250 की आबादी वाले गांवों को सड़क मार्ग से जोड़ने के लिए मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना लागू की गई है। इसके तहत 18 हजार किलोमीटर सड़क बननी है। इसमें 15 हजार किलोमीटर ग्रेवल (गिट्टी व मुरम वाली) सड़क बन चुकी है।

लगभग दस हजार किलोमीटर सड़क डामर की बनाई जाएगी। इसके लिए विभाग ने विश्व बैंक और एशियन इंफ्रास्ट्रक्चर इनवेस्टमेंट बैंक से कर्ज लेने के लिए प्रस्ताव भेजा था, जिसे सैद्धांतिक सहमति मिल चुकी है। कर्ज लेने के लिए अब कैबिनेट की मंजूरी ली जाएगी। विभाग ने 2018-19 तक सभी सड़कों का डामरीकरण का लक्ष्य रखा है।

कैबिनेट में इन मुद्दों पर होगा निर्णय

 

- पूर्व आईएएस अफसर कोमल सिंह के इलाज पर खर्च हुई राशि का भुगतान सरकार करेगी। सिंह का लंबी बीमारी के बाद राजधानी के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया था।

- मीसाबंदी को सम्मान निधि के लिए आवेदन करने की अंतिम तारीख बढ़ाई जाएगी।

- सेवानिवृत्त विशेष न्यायाधीश दीप कुमार केसरवानी को लोकायुक्त संगठन में विधि सलाहकार के तौर पर संविदा नियुक्ति दी जाएगी।

- चार सिंचाई परियोजना को स्वीकृति।

 

सोशल मीडिया पर प्रदर्शन ठीक नहीं, शाह की डांट सुननी पड़ती है : चौहान

भोपाल। आईएसआई एजेंट के रूप में भाजपा कार्यकर्ता का नाम सामने आने का मसला रविवार को भाजपा की प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक में भी उछला।

पार्टी के प्रदेश कार्यालय में हुई बैठक में नंदकुमार सिंह चौहान ने कहा कि पार्टी नेताओं को अपने से जुड़ने वाले कार्यकर्ताओं के बैकग्राउंड की जानकारी होना चाहिए। इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि साफ और स्वच्छ छवि के लोग ही पार्टी से जुड़ें।

उन्होंने कहा कि मप्र सरकार की पुलिस ने निष्पक्षता के साथ कार्रवाई की है। यह सरकार की उपलब्धि है और इसे लोगों तक पहुंचाना चाहिए।

अमित शाह की डांट सुनना पड़ती है

प्रदेश अध्यक्ष चौहान ने इस मामले पर सोशल मीडिया में पार्टी पर लग रहे आरोपों पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि पार्टी सोशल मीडिया पर इन आरोपों का जवाब नहीं दे पाई। सोशल मीडिया पर हमारा परफॉरमेंस बेहतर नहीं होने के कारण मुझे राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की डांट सुननी पड़ती है।

nkchouhan_2017212_224837_12_02_2017 (1)

व्यापमं मामले में सुप्रीम कोर्ट ने 634 छात्रों के एडमिशन किए रद्द

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) परीक्षा में सामूहिक नकल मामले में सुप्रीम कोर्ट ने 634 छात्रों के एडमिशन रद्द कर दिए। इन सभी का दाखिला साल 2008 से लेकर 2012 तक पांच वर्षों के दौरान हुआ था। सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जगदीश सिंह खेहर ने छात्रों की तरफ से दाखिल सभी याचिकाओं को खारिज करते हुए मध्य प्रदेश हाईकोर्ट के फैसले को बरकरार रखा है।

इससे पहले, मध्यप्रदेश हाईकोर्ट में भी इस मामले पर एडमीशन रद्द करने का फैसला सुनाया गया था। मध्यप्रदेश का व्यापमं घोटाला शिक्षा के क्षेत्र में अब तक का सबसे बड़ा फर्जीवाड़ा माना जाता है।

गौरतलब है कि व्यापमं घोटाला सामने आने के बाद साल 2008-12 में सभी दाखिले रद्द कर दिए गए थे। फर्जीवाड़े में मप्र सरकार के कई मंत्रियों और नेताओं के नाम इस मामले में आए थे। यहां तक कि पूर्व राज्यपाल पर भी आरोप लगे थे। घोटाले से जुडे़ कई लोगों की संदिग्ध मौत के बाद इसकी जांच सीबीआई को सौंपी गई।

vyapam_case_sc_2017213_124835_13_02_2017

भारत जीत से 3 विकेट दूर, महमदुल्लाह आउट

ashwin_wicket_2017213_125716_13_02_2017हैदराबाद। ईशांत शर्मा ने सोमवार को बांग्लादेश के खिलाफ एकमात्र टेस्ट मैच में महमदुल्लाह को आउट किया और भारत जीत के और करीब पहुंच गया। बांग्लादेश ने मैच के अंतिम दिन 459 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए समाचार लिखे जाने तक दूसरी पारी में 78 अोवरों में 7 विकेट पर 225 रन बना लिए हैं। मेहदी हसन 9 और कमरूल इस्लाम बगैर खाता खोले क्रीज पर हैं। बांग्लादेश को जीत के लिए 234 रन और चाहिए जबकि उसके 3 विकेट शेष है।

बांग्लादेश ने अंतिम दिन सुबह 3 विकेट पर 103 रनों से आगे खेलना शुरू किया। दिन के तीसरे ही अोवर में जडेजा की उठती हुई गेंद को शाकिब नीचे नहीं रख पाए और फॉरवर्ड शॉर्ट लेग पर पुजारा ने आसान कैच लपका। शाकिब ने 22 रन बनाए। इसके बाद महमदुल्लाह और कप्तान मुश्फिकुर रहीम ने पारी को संभालने की कोशिश की। जब ऐसा लग रहा था कि ये दोनों क्रीज पर जम रहे हैं तभी रहीम ने अश्विन की गेंद पर जोखिमभरा शॉट खेलने के चक्कर में मिडऑफ पर जडेजा को आसान कैच थमाया। उन्होंने 23 रन बनाए।

इसके बाद महमदुल्लाह का साथ देने शब्बीर रहमान क्रीज पर उतरे। उन्होंने कुछ ‍देर तक साथ भी निभाया, लेकिन वे ईशांत शर्मा की झन्नाटेदार गेंद को बैकफुट पर खेलने के चक्कर में एलबीडब्ल्यू हो गए। उन्होंने 22 रन बनाए और महमदुल्लाह के साथ छठे विकेट के लिए 51 रन जोड़े। अब मेहमानों को हार से बचाने का दायित्व महमदुल्लाह पर आ गया था, लेकिन वे ‍ईशांत के जाल में उलझे। ईशांत की शॉर्ट पिच गेंद को वे ठीक से पुल नहीं कर पाए और स्क्वेयर लेग बाउंड्री पर भुवनेश्वर को आसान कैच दे बैठे। महमदुल्लाह ने 149 गेंदों में 7 चौकों की मदद से 64 रन बनाए।

इससे पहले चौथे दिन विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेश की शुरुआत बेहद खराब रही जब तमिम इकबाल मात्र 3 रन बनाकर छठे ही ओवर में रविचंद्रन अश्विन ने आउट कर दिया। इसके बाद सौम्या सरकार (42) और मोमिनुल हक (27) ने पारी को संभालने की कोशिश की, लेकिन रवींद्र जडेजा ने सरकार को आउट कर बांग्लादेश की उम्मीदों को ध्वस्त किया। अजिंक्य रहाणे ने स्लिप में उनका शानदार कैच लपका। सरकार ने हक के साथ दूसरे विकेट के लिए 60 रन जोड़े। इसके बाद मोमिनुल भी चलते बने और अश्विन की गेंद पर स्लिप में रहाणे को आसान कैच थमा बैठे।

- See more at: http://naidunia.jagran.com/sports/cricket-live-ind-vs-ban-india-needing-4-wickets-for-win-in-hyderabad-test-1001449#sthash.dGGnFhMe.dpuf

ISIS के चंगुल से केरल के पादरी को छुड़ाने के लिए 60 बच्चों ने लिखा मोदी को लेटर

तिरुवनंतपुरम. यहां के 60 बच्चों ने नरेंद्र मोदी को लेटर लिखकर अगवा पादरी टॉम उजहूनालिल (55) की रिहाई की गुहार लगाई है। बता दें कि फादर टॉम को आईएसआईएस ने सदर्न यमन के शहर अदन से 4 मार्च को अगवा किया था। 4 से 5 साल है बच्चों की उम्र…

- जिन बच्चों ने मोदी को लेटर लिखा है, उनकी उम्र चार से पांच साल है।
- ये बच्चे कोच्चि के पास कुमबलांगी स्थित सेक्रेड हार्ट चर्च से जुड़े हुए हैं।
- बच्चों ने लेटर को हिंदी, अंग्रेजी और मलयालम में लिखकर एर्नाकुलम के सांसद प्रो. केवी थॉमस को दिया है।
- चर्च से जुड़े लोगों के मुताबिक, बच्चों के पेरेंट्स और अन्य पादरियों ने उनको लेटर लिखने में मदद दी।
- थॉमस ने कहा, “जितनी जल्दी होगा, मैं इस लेटर को पीएम मोदी तक पहुंचा दूंगा।”
- “मैं मंगलवार रात को दिल्ली जाने का प्लान कर रहा हूं। कोशिश करूंगा कि मोदी से बुधवार या फिर शुक्रवार को अप्वाइंटमेंट मिल जाए। एक पादरी और 20 मेंबर्स भी दिल्ली आकर मोदी से मुलाकात करेंगे।”
फादर टॉम की रिहाई के लिए की गई प्रार्थना
- इससे पहले फादर टॉम की रिहाई के लिए केरल के कई हिस्सों में प्रार्थना की गई और लोगों ने मोमबत्तियां जलाई।
- फादर टॉम को 4 मार्च, 2016 को अदन के एक ओल्ड एज होम से अगवा कर लिया गया था। यहां 15 लोगों की हत्या भी कर दी गई थी।
- इसके बाद टॉम का खुद को बचाने की गुहार लगाने वाला एक वीडियो सामने आया था। इसमें टॉम ने प्रणब मुखर्जी, नरेंद्र मोदी, पोप फ्रांसिस और क्रिश्चियन कम्युनिटी से मदद की अपील की थी।
वीडियो में क्या बोले थे टॉम?
- दिसंबर में सामने आए एक वीडियो में फादर टॉम काफी कमजोर दिख रहे थे और बार-बार लड़खड़ाती आवाज में अपने सामने लिखी लाइनों को पढ़ते रहे थे।
- उन्होंने कहा, “डियर पोप फ्रांसिस, डियर होली फादर, एक पिता के रूप में प्लीज मेरी लाइफ का ख्याल करें। मैं बेहद निराश हूं, मेरी सेहत बिगड़ती जा रही है।”
- फॉदर टॉम ने दावा किया कि किडनैपर्स ने भारत सरकार, प्रेसिडेंट और प्राइम मिनिस्टर से कई बार कॉन्टैक्ट किया।
- वह कहते हैं, “मैं बेहद दुखी हूं, मेरे बारे में किसी ने गंभीरता से नहीं सोचा। रिपोर्ट्स बताती हैं कि मेरी रिहाई को लेकर सब कुछ तय हो चुका है, पर असलियत कुछ और लगती है।”
- फादर कहते हैं, “मिडल ईस्ट से किडनैप किए गए एक न्यूज रिपोर्टर को रिहा कर दिया गया, क्योंकि वह फ्रांस की थी।”
- “डियर पीपुल, मेरी आप सबसे अपील है, मेरी मदद करिए, मेरी जिंदगी बचाइए, मुझे जल्द इलाज की जरूरत है।”

स्क्रिप्ट पढ़ने से पहले ही विवाद करते हैं राजस्थानी: सेंसर बोर्ड के चेयरमैन बोले

pahlaz-nihlani_1486966098जयपुर. यहां आए सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन (सेंसर बोर्ड) के चेयरमैन पहलाज निहलानी ने संजय लीला भंसाली का ‘पद्मावती’ मामले में बचाव किया। निहलानी ने कहा, कि लोग बिना तथ्यों को जाने स्क्रिप्ट को पढ़े बिना ही बवाल मचा देते हैं। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि इतिहास से छेड़छाड़ वाली फिल्में सेंसर बोर्ड पास नहीं करेगा। डायरेक्टर के साथ मारपीट से राजस्थान की इमेज बिगड़ेगी…